चाकलेट देकर आंटी कमरे में बंद कर देती थी, अंकल करते थे गंदा काम

Scn news share

मप्र के भोपाल शहर में दस साल की बच्ची के साथ पिछले कई दिनों से तीन लोगों द्वारा दुष्कर्म करने का मामला सामने आया है। घटना का पता गुरुवार को तब चला जब चार दिन से खाना-पीना छोड़ चुकी बच्ची की हालत बिगड़ने लगी। पुलिस ने एक महिला सहित चार लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। रोंगटे खड़े कर देने वाली यह घटना जहांगीराबाद इलाके में हुई।

सीएसपी जहांगीराबाद भारतेंदु शर्मा के बताया कि दस साल की बच्ची अपने परिवार के साथ रहती है। वह पांचवी कक्षा में पढ़ती है। उसकी मां घरों में बर्तन साफ करने का काम करती है। पिछले कुछ दिनों से बच्ची सुबह स्कूल तो सही समय पर जाती थी, लेकिन छुट्टी के बाद भी काफी देर से स्कूल से लौटती थी। काम पर जाने के कारण उसकी मां इस बारे में ध्यान नहीं दे पा रही थी। लेकिन पहले से बच्ची कुछ गुमसुम रहने लगी थी। खाने के नाम पर भी नाम मात्र का खा रही थी। इस बात से चिंतित मां ने उससे प्यार से पूछताछ की, तो उसने जो बताया, उसे सुनकर मां के पैरों तले जमीन खिसक गई। अंकल लोग कमरे में उसके साथ रोज गलत काम करते थे।

पुलिस के मुताबिक, बच्ची ने मां को बताया कि पड़ोस में रहने वाली सुमन आंटी उसे चाकलेट देकर कमरे में बंद कर देती थी। कमरे में आकर अंकल लोग उसके साथ गलत काम करते थे। बच्ची की मां ने परिजन के साथ थाने में शिकायत दर्ज कराई। इस मामले में पुलिस ने सुमन को हिरासत में लेकर सख्ती से पूछताछ की। इसके बाद आरोपी 67 वर्षीय नन्नू दादा, गोकुल चौरसिया, ज्ञानेंद्र पंडित को भी पोक्सो एक्ट के तहत गिरफ्तार कर लिया। आरोपियों में नन्नू चौकीदारी करता है, गोकुल की पान की दुकान है और ज्ञानेंद्र ड्राइवर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *