घुवारा कसवा में एक क्लीनिक पर छापा मार कारवाही, 10 लाख रुपये की दवाईया जप्त

Scn news share

SCN NEWS बड़ा मलहरा से
दिलीप अग्रवाल की रिपोर्ट

बडामलहरा। शुक्रवार को सेहत विभाग की टीम ने घुवारा कसवा में एक क्लीनिक पर छापा मारकर 10 लाख रुपये की दवाईयो का अबैध भंडार पकडा है। बडी कार्रवाई से क्षेत्र में हडकंप मच गया। बताया जाता है कि, एक व्यक्ति अपने आप को डॉक्टर बताकर बीच बाजार में अबैध क्लिनिक संचालित कर पिछले 30 वर्षो से ग्रामीणो का इलाज कर रहा था। छापा पड़ते ही डॉक्टर और भर्ती मरीज क्लिनिक छोडकर रफूचक्कर हो गये।
मुख्य स्वास्थ्य एवं चिकित्सा अधिकारी अशोक तिवारी के नेतृत्व में शुक्रवार को स्वास्थ्य विभाग की टीम में शामिल जिला स्वास्थ्य अधिकारी डॉ. शरद चौरसिया, ड्रग इंस्पेक्टर देवेंद्र जैन शुक्रवार 12 बजे के लगभग घुवारा मुख्य बाजार में स्थित अतुल क्लिनिक पर छापा मार कार्रवाई की। टीम के अंदर प्रवेश करते ही क्लिनिक संचालक और कार्यरत स्टॉप तथा बहां भर्ती मरीज भाग खडे हुऐ। क्लिनिक में दाखिल होकर देखा तो वहां पर भारी मात्रा में एलोपैथिक दवाओ से गोदाम भरा पडा था। साथ ही 10 पलंग का अबैध अस्पताल संचालित था। प्रत्यक्षदर्शियो के अनुसार ज्ञानचंद जैन पिछले 30 वर्षो से अस्पताल बनाकर मरीजो का इलाज और दवाओ का थोक एवं फुटकर व्यापार कर रहा है।
मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी अशोक तिवारी ने मामले को काफी गंभीर बताते हुऐ कहा कि, इतनी दवाऐं तो बडे से बडा नर्सिंग होम संचालक भी नही रखता है। अबैध अस्पताल में लाखो रुपये कीमत की 56 प्रकार की दवाऐं जप्त की है जिसमें कुछ प्रतिबंधित दवाऐं भी शामिल है। उन्होने बताया कि, छापामारी में अस्पताल संचालन, मेडीकल स्टोर व इलाज संबंधी कोई भी दस्ताबेज बरामद नही हुआ है और हमारे बिभाग से ज्ञानचंद जैंन को किसी प्रकार की कोई अनुमति नही दी गई है। पंचनामा के बाद अस्पताल को सील्ड कर दिया है और बैधानिक दस्ताबेज सहित संचालक को उपस्थित होने के निर्देश दिया है। छापामार कार्रवाई की सूचना मिलते ही तहसीलदार त्रिलोक सिंह पोसाम, नायब तहसीलदार जयहिंद सिंह घोष व उपथाना प्रभारी आरएन पटैरिया पहुंच गये।

एस सी एन न्यूज बडामलहरा
दिलीप अग्रवा

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *