अंतर्राष्ट्रीय पदक विजेताओं को भी मिलेगी सरकारी नौकरी

Share Scn News India

अंतर्राष्ट्रीय स्तर की खेल प्रतियोगिताओं में व्यक्तिगत अथवा टीम स्पर्धा में पदक विजेताओं को भी सरकारी नौकरी मिलेगी। श्री चौहान आज मेजर ध्यानचन्द स्डेडियम में आयोजित अखिल भारतीय राजमाता विजयाराजे सिंधिया महिला गोल्ड कप हॉकी टूर्नामेंट के समापन समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने टूर्नामेंट की प्रथम चार स्थान पाने वाली टीमों को एक-एक लाख रूपये की अतिरिक्त धन राशि और विभिन्न श्रेणियों के बेस्ट खिलाड़ियों को 25-25 हजार रूपये की धन राशि का पुरस्कार पृथक से देने की घोषणा की। समापन अवसर पर हुए फायनल मैच में इंडियन रेल्वे महिला हॉकी टीम ने मध्यप्रदेश महिला हॉकी अकादमी ग्वालियर टीम को 4 के मुकाबले एक गोल से पराजित कर महापौर ट्रॉफी विजेता का गौरव हासिल किया।

मुख्यमंत्री श्री चौहान ने कहा कि जिंदगी खेलों के बिना अधूरी है। जिंदगी को खेल मानकर जीना, जिंदगी को आसान बना देता है। उन्होंने पालकों का आव्हान किया कि बच्चों को मन लगाकर पढ़ने और खेलने के लिये प्रोत्साहित करें। बच्चे मन लगाकर खूब पढ़ें और खूब खेलें। प्रदेश की सरकार उनका पूरा ध्यान रखेगी। उन्होंने राजमाता सिंधिया की स्मृति में प्रतियोगिता आयोजन की पहल की सराहना की। विजेता, उपविजेता टीम को उत्कृष्ट प्रदर्शन के लिये मुख्यमंत्री ने बधाई दी और खिलाड़ियों से परिचय प्राप्त कर उनका उत्साहवर्धन किया तथा टूर्नामेंट के पुरस्कारों का वितरण किया।

महापौर श्री आलोक शर्मा ने बताया कि टूर्नामेंट का आयोजन 2 से 10 दिसम्बर तक मेजर ध्यानचंद हॉकी स्टेडियम में किया गया। इसमें देश की 16 उत्कृष्ट महिला हॉकी टीमों ने भाग लिया। प्रतियोगिता अवधि में कुल 28 मैच खेले गये।

नगर निगम अध्यक्ष श्री सुरजीत सिंह चौहान ने मुख्यमंत्री को स्मृति चिन्ह भेंट किया। विजेता टीम को डेढ़ लाख रूपये, उपविजेता को एक लाख रूपये, तृतीय स्थान पर रहने वाली टीम को 50 हजार और चौथे स्थान की टीम को 25 हजार रूपये के पुरस्कार प्रदान किये गये।

प्रतियोगिता के समापन कार्यक्रम में सहकारिता राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री विश्वास सारंग, सांसद श्री आलोक संजर, भोपाल विकास प्राधिकरण के अध्यक्ष श्री ओम यादव, विधायक श्री सुरेन्द्रनाथ सिंह सहित बड़ी संख्या में खेल प्रेमी मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!