ओंकारेश्वर में आदि गुरू शंकराचार्य की प्रतिमा निर्माण हेतु- जिले में 16 से 18 जनवरी तक निकलेगी एकात्म यात्रा

Share Scn News India

बैतूल नगर में हवाई जहाज से होगी पुष्प वर्षा
धार्मिक स्थलों को किया जाएगा सुसज्जित
तैयारियों को लेकर धर्मगुरुओं एवं समाज प्रमुखों की बैठक आयोजित
बैतूल, 29 दिसंबर 2017
मां नर्मदा के तट पर भारतीय अस्मिता और राष्ट्रीय चेतना के आधार स्तंभ, सांस्कृतिक एकता और मानव मात्र में एकात्मता के उद्घोषक तथा अद्वेतवाद के अजेय योद्धा आदि शंकराचार्य ने दिव्य ज्ञान प्राप्त किया। प्रदेश सरकार द्वारा ओंकारेश्वर में आदि शंकराचार्य की प्रतिमा की स्थापना के लिए धातु संग्रहण एवं उनके अद्वेत वेदांत दर्शन के प्रति जनजागरण अभियान संचालित करने के उद्देश्य से एकात्म यात्रा का आयोजन किया जा रहा है। यह यात्रा 16 जनवरी को आमला विकासखण्ड के मोरखा से जिले में प्रवेश करेगी एवं 17-18 जनवरी को विभिन्न स्थानों से गुजरते हुए 19 जनवरी को हरदा जिले के लिए प्रस्थान करेगी। यात्रा में सभी धर्मों की भागीदारी की जाएगी एवं जिले के समूचे जनमानस के सहयोग से यात्रा को भव्यता प्रदान की जाएगी।
यात्रा की तैयारियों के सिलसिले में शुक्रवार को कलेक्टर श्री शशांक मिश्र की अध्यक्षता में धर्म गुरुओं एवं समाज प्रमुखों की बैठक आयोजित की गई। बैठक में पुलिस अधीक्षक श्री डीआर तेनीवार, जिला योजना समिति के सदस्य श्री जितेन्द्र कपूर, जिला जन अभियान परिषद् के उपाध्यक्ष श्री मोहन नागर, यात्रा के समन्वयक एवं नगर पालिका अध्यक्ष श्री अलकेश आर्य, विद्या भारती के श्री बुधपाल सिंह ठाकुर, जिला पंचायत सीईओ सुश्री शीला दाहिमा सहित धर्म गुरुओं एवं समाज प्रमुखों सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने भाग लिया। बैठक में यह तय किया गया कि जिले में इस यात्रा को व्यापकता एवं भव्यता प्रदान करने के लिए सभी धर्म के लोग एवं आमजन की भरपूर सहभागिता की जाएगी।
विभिन्न स्थानों पर होगा यात्रा का भव्य स्वागत
मोरखा से प्रवेश करते ही समस्त धर्मों के धर्म गुरुओं द्वारा इस यात्रा का भव्य स्वागत किया जाएगा। इसके साथ ही यात्रा के प्रमुख पड़ावों पर स्वागत की भव्य तैयारियां की जाएगी। सभी प्रमुख पड़ावों पर सभी धर्मों के धर्मगुरू एवं समाज प्रमुख मौजूद रहेंगे, जो सुविधा अनुसार यात्रा के साथ भी चलेंगे। पड़ाव स्थलों पर धर्म गुरुओं का सम्मान भी किया जाएगा। यात्रा का प्रमुख आकर्षण यह भी रहेगा कि बैतूल बाजार से बैतूल नगर में यात्रा के भ्रमण के दौरान बालाजीपुरम् संस्थान द्वारा हवाई जहाज से पुष्प वर्षा की जाएगी।
सभी स्थानों पर धर्म ध्वजाएं लहराएंगीं
बैठक में कलेक्टर ने बताया कि यात्रा का प्रतीक ध्वज शहर के सभी स्थानों पर लगाए जाएंगे। नगरीय क्षेत्रों में प्रमुख स्थानों पर विशाल ध्वज स्थापित किए जाएंगे, वहीं ग्रामीण क्षेत्रों में भी सभी स्थानों पर यात्रा के ध्वज लगाए जाएंगे।
धार्मिक स्थान होंगे सुसज्जित
यात्रा के दौरान सभी धार्मिक स्थलों को सुसज्जित किया जाएगा। धार्मिक स्थलों एवं यात्रा के प्रमुख मार्गों को रंगोली से भी सजाया जाएगा। समस्त धार्मिक स्थलों के सामने यात्रा संबंधित बैनर भी लगाए जाएंगे।
नगरीय क्षेत्रों से आटा का संग्रहण होगा एवं दीपक दिए जाएंगे
यात्रा को भव्यता प्रदान करने के लिए जिले के नगरीय क्षेत्रों में नगरीय निकायों द्वारा यात्रा के पूर्व सभी घरों में दो-दो दीपक प्रदान किए जाएंगे, जो यात्रा के दौरान प्रज्जवलित होंगे। इसके साथ ही प्रत्येक घर से एक-एक कटोरी आटा भी प्राप्त किया जाएगा, जो यात्रा के दौरान होने वाले समरसता भोज में उपयोग किया जाएगा।
कन्याओं एवं वृद्धजनों का होगा सम्मान
यात्रा के दौरान पड़ाव स्थलों पर कन्या पूजन एवं वृद्ध जनों का सम्मान कार्यक्रम भी आयोजित किया जाएगा।
धातु संग्रहण
ओंकारेंश्वर में आदि शंकराचार्य की मूर्ति निर्माण हेतु धातु संग्रहण के लिए विभिन्न स्थानों से कलश संग्रहित किए जाएंगे। इन कलश पात्रों में 100-100 ग्राम मिट्टी भी संकलित होगी।
एकात्म यात्रा के मूल मंत्र का प्रसारण
यात्रा के आयोजन के पूर्व जिले के सभी स्थानों पर एकात्म यात्रा के मूल मंत्र एवं नर्मदाष्टक इत्यादि का प्रसारण कर यात्रा का वातावरण तैयार किया जाएगा। साथ ही भारत माता एवं मां ताप्ती की आरती भी विभिन्न स्थानों पर आयोजित होगी।
बेटी बचाओ एवं नारी सम्मान के लिए हस्ताक्षर अभियान
समूची यात्रा के दौरान बेटी बचाओ एवं नारी सम्मान के लिए हस्ताक्षर अभियान भी संचालित होगा।
यात्रा का कार्यक्रम
यह यात्रा 16 जनवरी को आमला विकासखण्ड के ग्राम मोरखा से जिले में प्रवेश करेगी, जहां जनसंवाद होगा। 17 जनवरी को मुलताई एवं बैतूलबाजार में जनसंवाद होगा। 18 जनवरी को बैतूल, खेड़ीसांवलीगढ़ एवं चिचोली में जनसंवाद करते हुए 19 जनवरी को यात्रा हरदा के लिए रवाना होगी। प्रतिदिन यात्रा प्रारंभ होने के पूर्व प्रात: 8.30 बजे पादुका पूजन एवं निर्वाण अष्टक का गायन होगा। यात्रा प्रारंभ होने पर सबसे आगे रथ चलेगा, जिसमें पादुका, चार स्थानों के चित्र एवं अखण्ड भारत का चित्र होगा। रथ पर एक निर्धारित ध्वज भी रहेगा। यात्रा में सर्वप्रथम आदि शंकराचार्य एकात्म यात्रा रथ रहेगा। इस रथ के पीछे केरावन वाहन में नेतृत्वकर्ता संतगण एवं यात्रा समन्वयक रहेंगे। यात्रा के साथ जन अभियान परिषद् का कोर ग्रुप भी रहेगा, जो यात्रा की समस्त व्यवस्थाएं एवं आगामी स्थल की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करेगा। दोपहर में यह यात्रा चिन्हित स्थानों पर रूकेगी। समय के अनुसार यात्रा मार्ग में आने वाले मठ, मंदिरों एवं ग्रामों में पादुका पूजन एवं स्वागत कार्यक्रम कराए जाएंगे। इसके पश्चात् यात्रा जनसंवाद स्थल पर पहुंचेगी, जहां फायबर बॉक्स में रखी पादुका नेतृत्वकर्ता संत एवं अन्य स्थानीय संतगणों के द्वारा सिर पर रखकर मंच पर ले जायी जाएगी एवं शंकराचार्यजी के चित्र के पास रखी जाएगी। जनसंवाद के पूर्व पंचायतों के प्रतिनिधियों द्वारा लाए जाने वाले धातु पात्रों को मंच पर सामने की ओर निर्धारित स्टेप्स पर रखा जाएगा। जिला कलेक्टर द्वारा उक्त धातु पात्रों को कलेक्टर खण्डवा को उपलब्ध कराया जाना सुनिश्चित किया जाएगा। जनसंवाद के पश्चात् यात्रा दल निर्धारित विश्राम स्थल पर पहुंचेगी। रात्रि विश्राम स्थल पर पादुका पूजन एवं आरती के पश्चात् आदि शंकराचार्य विरचित स्त्रोतों का गायन एवं अन्य भजनों का गायन कला मंडलियों द्वारा किया जाएगा। रात्रि के दौरान आदि शंकराचार्यजी पर तैयार की गई फिल्म एवं एनिमेशन मूवी का प्रदर्शन किया जाएगा।
ग्रामों से धातु पात्र लाने हेतु प्रतिनिधि नामांकित होंगे
उक्त एकात्म यात्रा में आदि शंकराचार्यजी की प्रतिमा निर्माण हेतु धातु संकलन के कार्य हेतु ग्राम की मिट्टी एवं धातु पात्र में (लोहा, पीतल, तांबा, कांसा) जनसंवाद स्थल पर ले जाए जाने हेतु प्रत्येक ग्राम पंचायत से प्रतिनिधि नामांकित किए जाएंगे।
बैठक में कलेक्टर एवं सभी सदस्यों ने समस्त धर्म गुरुओं एवं समाज प्रमुखों से इस यात्रा में अपना अमूल्य योगदान प्रदान कर यात्रा को पूरी भव्यता एवं गरिमा प्रदान करने की अपील की। इस दौरान बालाजीपुरम् संस्थान से श्री असीम पंडा एवं श्री राजेन्द्र पुरी, सिक्ख समाज से श्री मंजीत सिंह साहनी, डॉन बास्को चर्च से फादर ब्राइसी, अंजुमन समिति से श्री वसीम कुरैशी एवं श्री एजाज खान, ब्रह्मकुमारीज आश्रम से सुश्री वीके मंजू, गायत्री परिवार से श्रीमती नीलम दुबे एवं श्री कैलाश वर्मा, वरिष्ठ नागरिक संगठन से श्री उत्तम खण्डेलवाल, प्रतिध्वनि संस्था से श्री वीरेन्द्र सिंह ठाकुर, गौतम सेवा समिति से श्री अनिल झाम, आदिवासी संगठन से श्री डीडी उइके, नागरिक बैंक से श्री अतीक पंवार, विभिन्न समाजों के समाज प्रमुख सहित नगर पालिका मुलताई के अध्यक्ष श्री हेमन्त शर्मा, नगर पालिका आमला की अध्यक्ष श्रीमती लाजवंती नागले, नगरपालिका बैतूलबाजार के अध्यक्ष श्री सुधाकर पंवार, नगरपालिका चिचोली के अध्यक्ष श्री संतोष मालवीय सहित जन अभियान परिषद् की जिला समन्वयक श्रीमती प्रिया चौधरी एवं आयोजन समिति के सदस्य मौजूद थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!