बड़ामलहरा को ऑपरेटिव बैंक घोटाला, जांच हुई शुरूमामले की निष्पक्ष जांच से उजागर हो सकते हैं कई भ्रष्ट अधिकारी

Scn news share

छतरपुर/ लाखों रूपए की वित्तीय गड़बड़ी करने के आरोपी रहे मैनेजर को बनाया गया था बड़ामलहरा केन्द्रीय सहकारी बैंक का मैनेजर। किसान क्रेडिट कार्ड एवं कैश क्रेडिट लिमिट के नाम पर करोड़ों की धनराशि को मैनेजर ने मनमाने ढंग से डलवाया था कर्मचारियों सहित अन्य खातों में । जब मामला वरिष्ठ अधिकारियों की जानकारी में आया तो आनन-फानन में डेढ़ करोड़ से अधिक की राशि करायी गई जमा । करोड़ों की गड़बड़ी के जिम्मेदारों से पैसे जमा कराकर उसे फिर से वित्तीय दायित्व देना तथा कोर बैंकिंग होने के बावजूद लेनदेन पर नजर न रखना महाप्रबंधक की कार्यशैली पर लगा रही सवालिया निशान मामले की निष्पक्ष जांच से हो सकता है रीवा सहकारी बैंक में हुये घोटाले की तरह घोटाला उजागर। इस घोटाले में बडामलहरा प्रबंधक सहित एक अन्य कर्मचारी के निलंबन की खबर।मामले में

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *