घटिया निर्माण कार्य होने से टटम के ग्रामीणों में रोष*  गंदगी में रहने को मजबूर ग्रामीण,चौतरफा फैली गंदगी*

Scn news india share

रिपोर्ट -प्रद्युम्न फौजदार,छतरपुर

छतरपुर/जिले की ग्राम पंचायत टटम में पदस्थ सचिब रामसिंह राजपूत की मनमानी से ग्रामीणों में खासा रोष व्याप्त है ग्रामीणों ने जानकारी देते हुए बताया कि सचिव कभी कभार ही पंचायत कार्यालय में बैठता है सचिब के पंचायत में आने जाने का किसी को पता ही नही चल पाता है कि सचिव पंचायत में कब आता है और कब अपने घर सिंहपुर जाता है किसान नेता सोहन गुप्ता निवासी टटम ने बताया कि सचिब द्वारा पंचायत के कोई भी कार्य बिना सुबिधा शुल्क लियेे नहीं किये जाते हैं योजनावार सचिब द्वारा हितग्राहियों से सुबिधा शुल्क लिया जाता है जिसकी शिकायतें कई बार उन्होंने हितग्राहियों के साथ जाकर बरिष्ठ अधिकारियों के यहाँ कराई लेकिन कार्यवाही ना होने से सचिब के हौसले बुलंद हैं और वह अपनी मनमानी पर आमादा है श्री गुप्ता ने बताया कि अब बे सचिब के खिलाफ ग्रामीणों के साथ जाकर शीघ्र बरिष्ठ अधिकारियों को सचिब के कारनामों की जांच कराने के लिए ज्ञापन सौंपेंगे और हर हाल में सचिव के खिलाफ कार्यवाही कराएंगे

*घटिया निर्माण से ग्रामीणों में रोष*

ग्राम टटम के ग्रामीणों ने जानकारी देते हुए बताया कि पंचायत में जो निर्माण कार्य सचिब द्वारा कराए जा रहे है बे बेहद घटिया किस्म के है जैसे बाजार में बनाई गई सीमेंट रोड, देवकुलिया रोड पर बनाई सीमेंट रोड एवं बस्ती में बनाई गई सीमेंट रोड बेहद घटिया किस्म की है जो अभी से खराब होने लगी है और नाली की किनारे टूटने लगी है और उपस्वास्थ्य केंद्र के आजू-बाजू में ही दो आँगनवाड़ी भवन बना दिए गए जिससे बच्चों को केंद्र तक पहुँचने में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ सकता है ।

*गंदगी में रहने को मजबूर ग्रामीण*

टटम में बनिया मुहाल में गंदगी में रहने को ग्रामीण-जन मजबूर हैं यहाँ पैदल चलने में भी ग्रामीणों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा है सचिब द्वारा यहाँ ना तो सीमेंट रोड का निर्माण कार्य कराया गया और ना ही रास्ते मे मिट्टी का पुराव कार्य कराया गया जिससे पूरी रास्ते में नालियों का गंदा पानी बह रहा है और पूरे ग्राम में जगह जगह गंदगी के ढेर लगे हुए दिखते नजर आते हैं बस स्टैंड से लेकर बस्ती के अंदर और बाहर चौतरफा गंदगी ही गंदगी नजर आती है ग्रामीणों ने अब सचिब के खिलाफ कार्यवाही कराने के लिए मन बना लिया है और अब बे ग्राम में सचिब की मनमानियों को नही चलने देंगे सचिब की मनमानियों के खिलाफ बरिष्ठ अधिकारियों से शिकायतें कर कार्यवाही की मांग करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!