नौ महिनें हो गएं रसीद कटवाएं फिर भी नही बना शौचालय, बाहर नही जाएं तो क्यां करें स्वच्छता के लिए केवल इलेक्ट्रानिक्स प्रयासों पर ही नपा का जोर

Scn news share

दुर्गा प्रसाद जौंजारे आमला:- सरकार की अतिमहत्वाकांक्षी योजना स्वच्छ भारत के लिए इन दिनो भरसक प्रयास हो रहें है, साथ ही स्वच्छता के लिए सरकार ने मानों अपना खजाना सा खोल दिया है, किंतु प्रशासन के नुमाइंदो को मानो अभी सरकार की इस मंशा को समझनें मे और वक्तं लग सकता है, तभी तो तमाम दिखावांे के बीच कुछ ऐसी शिकायतंे भी आती रहती है, जों हैरान तो करती ही है, वंही प्रशासनिक प्रयासांे की कलई भी खोलती है। दरअसल शहर मे बनने वाले सरकारी शौचालय पर प्रशासन की अनदेखी सरकार की मंशा पर बट्टा लगा सकती है, वंही शहर के कई इलाकों मे सफाई के केवल इलेट्रानिक्स प्रयास से ही स्वच्छ भारत का सपना पूरा होगा इसमे संदेह है। दरअसल स्वच्छ भारत मिशन के सफर पर निकली आमला नपा की अधूरी तैयारियां की झलक इन दिनो शहर के कई इलाकों मे साफ देखी जा सकती है, शहर की पहली तस्वीर नपा से महज कुछ कदम की दूरी पर गुरूवारं देखने को मिली जंहा वार्ड क्रमांक 1 के मांझी मोहल्ला में शांताबाई के पूरें परिवार द्वारा जब शौच के लिए बाहर जानें पर सवाल किया गया तो परिवार के सदस्यांे ने बताया की, नपा द्वारा नौ महिने पहलें घर मे शौचालय के लिए तेरह सौ रूपएं की रसीद तो कटवाई गई तों किंतु उसके बाद नपा भूल ही गई है, बाद मे कोई पूछने आया ही नही। इसलिए परिवार के सदस्यांे द्वारा शौच के लिए अभी भी बाहर ही जाते है। ऐसे तमाम उदाहरण है, जंहा अभी काम होना बाकी है। वंही एक दूसरें मामलें मे वार्ड क्रमांक 5 स्थित तहसील कार्यालय के पीछे बीतें कई वर्षांे से नाली नही बनाई गई है, जिससे यंहा सड़कों पर ही गंदगी पसरी रहती है, साथ ही बारिश का पानी लोगो के घरांे मे घुस जाता है। यंहा के आंनद भोंडे, शैलेन्द्र यादव, नुरूलखान, ने मनोज सोनपूरे, आदि कई लोगो ने बताया की यंहा नाली के लिए कई बार नपा प्रशासन से लिखित और मौखिक तौर पर मांग की गई है, किंतु कोई ध्यान नही दिया जाता है, यंहा नाली नही होने से फैलने वाली गंदगी से हमेशा बीमारियांे का प्रकोप भी बना रहता है। कुछ ऐसा ही आलम शहर के ज्यादातर इलाकें मे देखने को मिल रहा है, वंही इस पर स्थानिय प्रशासन की अधूरी तैयारी और गैर जिम्मेदार रवैया सरकार के स्वच्छ भारत मिशन पर पानी फेर सकता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *