श्री दिलीप जगताप हुए महाराष्ट्र में उत्कृष्ट शिक्षक सम्मान से सम्मानित

Share Scn News India

सपन आठनेर

12 जनवरी स्वामी विवेकानंद एवं छत्रपति शिवाजी की माता मातोश्री जिजाऊ माँ की जयंती प्रित्यर्थ 14 जनवरी मकरसंक्रांति के पावन पर्व पर शास.उ.मा.विद्यालय देहगुड़ के सक्रिय, ऊर्जावान प्रतिभाशाली शिक्षक श्री दिलीप जगताप निवासी आठनेर को महाराष्ट्र समन्वय मंच द्वारा आयोजित मराठा पी.एच.डी धारक, आचार्य पद्विधारक, विशिष्ट अलंकृत शिक्षको के सम्मान समारोह में “उत्कृष्ट सामाजिक शिक्षक” के रूप में प्रसिद्ध मराठी गीतकार, कलाकार व्याख्यानकर्ता सुमन्त टेकाढे एवं छत्तीसगढ़ के प्रसिद्ध मांझी मराठा संस्थापक श्री हबीर राव द्वारा सम्मानित किया गया, यह सम्मान उन्हें गीता मंदिर नागपुर के विशाल सभागृह में प्रदान किया गया।


उक्त अवसर पर श्री जगताप ने कहा-
*पतंग को पता है, उसे जमीन पर ही आ जाना हैं
जमीन पर आकर एक दिन, कचरे के डिब्बे में समा जाना हैं
फिर भी उत्साह से उसे आकाश में उड़ते चले जाना हैं
ऊँचा उड़ने और की खुशी के खातिर, कर्तव्य से सारा जीवन बिताना है
उसे उड़ना है उड़ते चले जाना हैं, यही तो जिंदगी है, यही तो जिंदगी है।*
शिक्षक श्री दिलीप जगताप को शास.उ. मा.विद्यालय के प्राचार्य श्री आर.के.दुबे, शास.उ.मा.विद्यालय आठनेर के प्राचार्य श्री एस.के.पचौरी, प्राचार्य श्री डब्लू.आर.धोटे,श्री चंदेल,श्री खंडाईत समस्त व्याख्याता शिक्षक गणों व समग्र शिक्षक संघ व शिक्षक/कर्मचारि संगठनों ने हार्दिक बधाई प्रेषित की हैं

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!