FM से धमाके का मास्टरमाइंड पोस्ट ऑफिस का पुराना कर्मचारी निकला, ऑनलाइन सीखा था रेडियो बम बनाना !

Share Scn News India

अभिषेक जैन

Scn news

सागर – Google ज्ञान से बम बनाया और करा दिया धमाका- Google का ज्ञान कभी कभी कुछ मामलों में कितना घातक हो सकता है इसका अंदाजा सागर में प्रवर डाक अधीक्षक के निवास पर हुए धमाके के खुलासे से लगाया जा सकता है। दरअसल FM रेडियो के जरिए कराए गए इस बम धमाके के मास्टर माइंड ने Google पर ऑन लाइन बम बनाने की विधि सीखी थी।सागर के पद्माकर नगर थाना अंतर्गत आनंद नगर में रहने वाले डाक विभाग के प्रभारी अधीक्षक के के दीक्षित के निवास पर गुरुवार को हुए रेडियो धमाके का पुलिस ने 24 घंटे के अंदर खुलासा कर दिया है। पुलिस ने इस मामले में 3 लोगों को हिरासत में लिया है। दरअसल डाक अधीक्षक के निवास पर भेजी गई पार्सल नमक मंडी पोस्ट ऑफिस से बुक कराई गई थी।जिसका खुलासा होने पर पुलिस ने जब नमक मंडी पोस्ट ऑफिस के सीसीटीवी फुटेज खंगाल तो इस पार्सल को बुक करने वाले दो चेहरे सामने आए।

जिसकी पहचान राजेश पटेल और बबलू के तौर पर की गई। इन दोनों को पकड़कर हेमंत साहू के द्वारा यह पार्सल बुक करने के लिए देना बताया गया।इसके बाद पुलिस ने जब हेमंत साहू को गिरफ्त में लिया तो चौंकाने वाला खुलासा सामने आया। दरअसल FM रेडियो के धमाके का मास्टरमाइंड हेमंत साहू था जिसने प्रभारी अधीक्षक केके दीक्षित से बदला लेने के लिए यह FM धमाका कराया था। हेमंत के अनुसार जब वह रामपुर पोस्ट ऑफिस में काम करता था, उस समय श्री दीक्षित ने उसे घोटाले में फंसा कर नौकरी से निकलवा दिया था। तथा fir करा कर राशि भी जमा करवाई थी। सागर के वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों का कहना है कि इसी पर से वह बदला लेने कीतलाश में था। उसे जब यह पता लगा कि कुछ दिन बाद प्रवर अधीक्षक के के दीक्षित के बेटे का विवाह होने वाला है तो उसने यह सनसनीखेज साजिश रच डाली। तथा अपने दो मित्रों के साथ मिल कर उसने अपनी प्लानिंग को अंजाम तक पहुंचा दिया। आरोपी का सोचना था कि गणतंत्र दिवस के मौके पर धमाका होने से पुलिस इसे आतंकी घटना या कार्यवाही के रूप में लेगी। परंतु नमक मंडी पोस्ट ऑफिस के सीसीटीवी फुटेज ने पूरा भांडा फोड़ दिया। आरोपी का यह भी कहना है उसने बम बनाने की विधि नेट पर सर्च करके सीख बाजार से पटाखे लाकर FM रेडियो के अंदर सेट कर दिया था। जिससे रेडियो का पिलक इलेक्ट्रिक स्विच में लगा कर चालू करते ही धमाके के साथ फट गया। इस धमाके में घायल हुए प्रवर अधीक्षक के पुत्र को गंभीर हालत में भोपाल रेफर कर दिया गया था। वही उनके एक रिश्तेदार व नौकर का सागर में ही इलाज जारी है। पुलिस ने मामले के मास्टरमाइंड हेमंत साहू तथा उसके सहयोगी राजेश पटेल एवं बबलू पर विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज करके 24 घंटे के अंदर मीडिया के सामने मामले का खुलासा कर दिया

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!