बड़ामलहरा- संभाबित पेयजल समस्या को लेकर बैठक सम्पन्न एसडीएम ने बैठक मे दिये सख्त निर्देश,अब नही होगी नल जल योजना के पानी से गेहू की सिचाई

Share Scn News India

अमित असाटी

बड़ामलहरा । गीष्म काल मे पेयजल समस्या से निपटने की रणनीति तय करने के उद्वेश्य से स्थानीय बीआरजीएफ भवन मे एसडीएम श्री राजीब समाधिया की अध्यक्षता मे आयोजित बैठक मे लोक स्वास्थ्य यात्रिकी बिभाग के सहायक यंत्री जे.पी.प्रभाकर जनपद पंचायत के मुख्य कार्यपालन अधिकारी अजय सिह जिला पंचायत के प्रौजेक्ट आफिसर चक्रेश जैन के अलाबा ग्राम पंचायतो के सरपच एंब सचिब मौजूद रहे । बैठक मे एसडीएम श्री समाधिया ने स्पष्ट निर्देश दिये कि गांव मे पेयजल समस्या उत्पन्न नही होनी चाहिऐ इसके लिऐ हर संभव प्रयास किये जायेगे ।अब नल जल योजना के पानी से गेहू के खेतो की सिचाई नही होगी ऐसा करने बालो के बिरूद्व सख्त कार्यबाही की जायेगी । बैठक मै एसडीएम श्री राजीब समाधिया ने स्पष्ट निर्देश दिये कि नलजल योजना के संचालन के संबध मै किसी भी तरह की कोताही बर्दाश्त नही की जायेगी नल जल योजनाऐ हर स्थिति मे पन्दह दिबस मै दुरस्त होनी चाहिऐ ग्राम पंचायतो को जिला पंचायत से राशि उपलब्ध करबाई जा चुकी है जिन ग्राम पंचायतो को राशि नही मिली बे पंच परमेश्बर योजना मद की दस फीसदी राशि से पंम्प चालक के मानदेय का भुगतान एंब दस फीसदी राशि से पाइप लाईन दुरस्त कराने के साथ ही पेयजल संबधी अन्य कार्य कराये । यह शिकायत मिलने पर कि ग्राम पंचायत रजपुरा मे नलजल योजना के पानी से गेहू के खेतो की सिचाई की जा रही है आपने संरपच एंब सचिब को फटकार लगाते हुऐ कहा कि अब नलजल योजना के पानी से गेहू की सिचाई नही होगी अगर शिकायत मिली तो एफआईआर दर्ज करबा दूगा। हर स्थिति मे नलजल योजना से पाइप लाईन से पानी उपलब्ध करबाया जाये । बैठक मे संभाबित पेयजल समस्या की तैयारी के संबध मे लोक स्वास्थ्य यात्रिकी बिभाग के सहायक यंत्री जे.पी.प्रभाकर ने बताया कि बिकासखण्ड के ग्रामीण इलाके मे 46 नलजल योजनाऐ संचालित है जिसमे 42 चालू है जबकि चार पिपरा,मनकारी,देबरान,एंब बौकना बन्द है । आपने बताया कि हैण्ड पम्प दुरस्त किये जा रहे है जिनका जल स्तर नीचे चला गया है उनमे पाइप डाले जा रहे है साथ ही जिन बसाहटो मे स्थापित हैण्ड पम्पो मे पानी अधिक है एंब बहा पेयजल की समस्या है ऐसे बौरो को चिन्हित कर सिगल हार्स पाबर की बिधुत मौटर डाली जायेगी मौटर ग्राम पंचायत द्वारा आबेदन देने पर बिभाग द्वारा उपलब्ध कराई जायेगी जबकि बिजली बिल का भुगतान ग्राम पंचायत करेगी । हाल ही मै ग्राम पंचायत रानीताल,गोरखपुरा,खरदूती,एंब झिगरी पंचायत को बिधुत मौटर उपलब्ध करबाई जा चुकी है । पेयजल समस्या के लेकर गम्भीर नही है ग्राम पंचायत के संरपच पेयलज संकट की आहट अभी से मिलने लगी है किन्तु इस समस्या के निदान हेतु ग्राम पंचायतो के संरपच एंब सचिबो मे कोई दिलचस्पी दिखाई नही दे रही है जिसके चलते बैठक मे एसडीएम राजीब समाधिया ने फटकार भी लगाई । जिला पंचायत द्वारा नलजल योजना के सुचारू संचालन हेतु इक्कीस ग्राम पंचायतो को राशि उपलब्ध करबाई गई किन्तु दो माह बाद भी अधिकाश ग्राम पंचायतो के संरपचो द्वारा राशि ब्यय कर नलजल योजनाओ को सुचारू रूप से संचालित नही किया समीक्षा बैठक मे जानकारी लेने पर संरपच एंब सचिबो ने यह बताया कि स्थल पर चालू है किन्तु पाइप लाइन से पानी भेजने की बात किसी ने भी स्बीकार नही कि लोक स्वास्थ्य यात्रिकी बिभाग के सहायक यंत्री जें.पी. प्रभाकर ने बताया कि दस ग्राम पंचायतो के संरपचो द्वारा राशि ब्यय नही की गई जिन्हे एसडीएम द्वारा सख्त निर्देश दिये गये है कि 15मार्च तक नलजल योजना संचालित होनी चाहिऐ अन्यथा उनके बिरूद्व कार्यबाही की जायेगी /

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!