गर्भवती महिलाओं नियमित पौष्टिक आहार देना आवश्यक – राज्यपाल

Share Scn News India

उज्जैन – राज्यपाल श्रीमती आनंदीबेन पटेल ने आज उज्जैन में सिंधी कॉलोनी प्रकाश नगर स्थित आंगनवाड़ी केंद्र पहुंच कर वहां गर्भवती माताओं और बच्चों से मुलाकात की। उन्होंने केन्द्र के बच्चों को फलों की टोकरी उपहार स्वरूप भेंट की। राज्यपाल ने कहा कि गर्भवती माताओं को ऐसा भोजन उपलब्ध कराया जाना चाहिए, जो स्वादिष्ट होने के साथ-साथ पौष्टिक भी हो। उन्होंने कहा कि बच्चों के लिए भी पौष्टिक एवं संतुलित भोजन उनके विकास के लिये जरूरी है।

राज्यपाल श्रीमती पटेल ने कहा कि गर्भवती महिलाओं और स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए केन्द्र सरकार द्वारा प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना प्रारंभ की गई है। इस योजना के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा 6 हजार रूपए की आर्थिक सहायता गर्भवती माताओं को सीधे उनके बैंक खाते में दी जाती है ताकि उन्हें पौष्टिक आहार उपलब्ध हो सके।

मातृ तथा शिशु मृत्यु दर में कमी आ सके। श्रीमती पटेल ने कहा कि गर्भवती माताओं और बच्चों को यदि हम सुरक्षित कर पाने में सफल होंगे, तो ही स्वर्णिम और उज्जवल भारत का सपना साकार हो सकेगा। राज्यपाल ने आंगनवाड़ी केंद्र का निरीक्षण किया, कार्यकर्ताओं से पूछा कि कितने बच्चे समय पर आते हैं तथा उन्हें मीनू के अनुसार भोजन उपलब्ध करवाया जा रहा है अथवा नहीं।

राज्यपाल ने आंगनवाड़ी केन्द्र में छोटे बच्चों को अन्नप्राशन कराया। जिन बच्चों का जन्मदिन था, उनके साथ केक काटकर उनका जन्म दिवस मनाया और उन्हें उज्जवल भविष्य की शुभकामनाएं दीं। गर्भवती माताओं की गोद भराई कर उन्हें सम्मानित किया। राज्यपाल द्वारा लाड़ली लक्ष्मी योजना के अंतर्गत हितग्राहियों को प्रमाण पत्र वितरित भी किए गए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!