दिन प्रति हो रहे रेत परिवहन अंकुश लगता हुआ दिखाई नही रहा है,

Share Scn News India

प्रदीप चौकीकर

रेत माफियाओ ने बनाई यूनियन

मानमाने दाम बेच रहे अवैध रेत

रेहटी -मुख्यमंत्री के विधानसभा क्षेत्र में हो रहे लगातार रेत के परिवहन पर अंकुश लगता हुआ दिखाई नहीं दे रहा है जहां एक और नगर में चल रहा है निर्माण कार्यों पर रेत का अवैध उत्खनन कर्ताओं द्वारा अवैध रेत की सप्लाई की जा रही है। नगर रेहटी की गलियों में नर्मदा तट से आने वाली अवैध रेत की ट्राली जो कि नगरें के लोगों द्वारा निर्माण कार्य के लिए मजबूरी बस ज्यादा पैसे चुकाकर खरीदना पड़ रही है वही अवैध माफियाओं द्वारा बनाई गई यूनियन द्रारा रेट अपने हिसाब से फिक्स किए गए हैं जिससे प्रधानमंत्री आवास में बन रहा है सैकड़ों गरीबों के आशियानों पर महंगाई का संकट बरकरार है ।

जिन गरीबों को प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत शासन ने मकान बनाने के लिए 2 लाख 50 हजार रूपये उपलब्ध कराएं की आप इतनी रकम में इतना मकान बनाकर तैयार कर ले मगर उनकी मजबूरी एक ही है रेत की महंगाई उनके लिए विघ्न पैदा कर रही है।

वहीं दूसरी और सुबह 8:30 बजे के लगभग तहसीलदार राजेन्द जैन द्वारा जो ट्रैक्टर ट्राली अवैध परिवहन करते हुए नगर की गलियों में खाली करने जा रहे थे तब उसको पकड़ लिया गया मगर यह कार्यवाही ऐसा ना हो सिर्फ दिखावा साबित हो ट्रैक्टर ट्राली प्रतिदिन नगर एवं ग्रामीण क्षेत्रों में रेत की सप्लाई हो रही है इसके बावजूद प्रशासन 1,2 ट्रैक्टर-ट्रालियों को पकड़ कर अपने काम से इतिश्री कर लेता है यदि प्रशासन का यही रवैया लगातार रहा तो जल्द ही इसका परिणाम भी क्षेत्र की जनता को भोगना पड़ेगा क्षेत्र की जनता का आक्रोश रेत माफियाओं के खिलाफ एक बड़े जन आंदोलन के रूप में होता हुआ दिखाई दे रहा है।आगे रेत माफियाओ के खिलाफ नगर मै आकोश पनप रहा है। रेत माफियाओ के द्रारा मौके का फायदा उठाया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!