प्रतिबंध के बाद भी हो रहा ट्यूबवेल खनन

दीपेश दुबे

सारनी । जिले में जल स्तर में निरंतर गिरावट आ रही है। जिसे देखते हुए जिले में बोर खनन पर कलेक्टर ने कड़ा प्रतिबंध लगा रखा हे, लेकिन इसके बाद भी कलेक्टर के आदेशों को नजर अंदाज करके बोरवेल कंपनी के एजेंटों के माध्यम से ग्रामीण क्षेत्रों में बड़े पैमाने पर ट्यूबवैल का खनन किया जा रहा है। पीएचई विभाग की मिलिभगत से बोर वेल कंपनी के एजेंट चंद पैसो की खातिर प्रकृति से खिलवाड़ करने में जुटे हुए हैं। ऐसा ही मामला ग्राम सलैया में देखने को मिला है जहां रात के समय में ट्यूबवेल का खनन किया जा रहा है और यह प्रक्रिया बीते 2 दिनों से लगातार हो रही है जिसकी जानकारी प्रशासन के होने के बाद भी किसी तरह की कार्रवाई नहीं की जा रही है जिसके कारण बोरवेल खनन कंपनी के एजेंटों के हौसले बुलंद है और रात के अंधेरे में बेखौफ होकर खनन किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!