आदिवासियों ने किया प्रदर्शन की होस्टल की मांग मांग पूरी होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी

Share Scn News India

दुर्गाप्रसाद जौंजारे
आमला। आदिवासी वर्ग के लोगों ने जनपद चौराहे पर प्रदर्शन किया प्रदर्शन में आदिवासी समुदाय के जनप्रतिनिधि भी शामिल हुए । दो घंटे तक छात्रावास की मांगों को लेकर जमकर नारेबाजी की गई उसके बाद प्रशासन का अमला मौके पर पहुंचा और प्रदर्शनकारियों ने नायब तहसीलदार को ज्ञापन सौंपकर आदिवासी बालिकाओं के लिए छात्रावास की मांग की और मांग पूरी ना होने पर उग्र आंदोलन की चेतावनी दी।

प्रदर्शनकारियों का नेतृत्व कर रहे वरिष्ठ कांग्रेस जितेंद्र शर्मा ,झामू धुर्वे जनपद सदस्य ,जनपद सदस्य अनिल धुर्वे ,जनपद सदस्य पूर्व जनपद सदस्य पूरन बामने ने नायब तहसीलदार से कहा कि यदि एक पखवाड़े के भीतर हमारी इस मांग पर ध्यान नहीं दिया गया तो भविष्य में उग्र आंदोलन की किया जाएगा। ज्ञापन सौंपने से पहले सभी वर्ग प्रमुख वक्ताओं ने धरना प्रदर्शन को संबोधित किया। जितेंद्र शर्मा ने कहा कि आमला ब्लाक में आदिवासी वर्ग की बालिकाओं के लिए छात्रावास नहीं है जबकि ब्लॉक में 40 हजार से अधिक आदिवासी वर्ग के लोग रहते हैं।राजेश वट्टी ने संबोधित करते हुए कहा कि लंबे समय से हम छात्रावास की मांग कर रहे हैं और पर शासन प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है अब यदि जल्द मांग पूरी नहीं की गई तो उग्र आंदोलन किया जाएगा ।अपने संबोधन में पूर्व जनपद सदस्य पूरन बामने ने कहा कि एक ओर सरकार बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ की बात करती हैं। वही ओर आदिवासी वर्ग की बेटियां के साथ नाइंसाफी कर रही है ,आदिवासी नेता श्यामू धुर्वे ने ने भी अपने विचार व्यक्त किए गए और कहा कि आदिवासी के साथ भेदभाव हम बर्दाश्त नहीं करेंगे ।इस अवसर पर पूर्व जनपद अध्यक्ष संतराम धुर्वे, संदीप नाईक कन्हैया साहू ,मोहित आथनकर, प्रकाश पारधी , रविकांत उघडे ,चेपा भगत शेखर पंडाल करे सहित बड़ी संख्या के लोग उपस्थित थे ज्ञापन के माध्यम से शासन प्रशासन को चेतावनी दी गई कि यदि जल्द आदिवासी वर्ग के बालिकाओं के लिए छात्रावास खोलने की प्रकिया परम प्रारंभ नहीं की गई की गई तो भविष्य में उग्र आंदोलन किया जाएगा प्रदर्शनकारियों का समर्थन करने पूर्व विधायक सुनीता बेले साथ धरना स्थल पर पहुंची और आदिवासी समुदाय की मांग को जायज बताया ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!