आबकारी और पुलिस विभाग के सामने नियम विरुद्ध संचालित हो रहा आहत

Share Scn News India

दीपेश दुबे

सारनी । नगर पालिका परिषद सारनी के अंतर्गत दो विदेशी और चार देसी शराब की दुकानें संचालित हो रही है। यह छह दुकान में अवैध तरीके से अहाते का संचालन किया जा रहा है ऐसा भी नहीं कि इसकी जानकारी आबकारी और पुलिस विभाग को नही है उसके बाद भी दोनों विभाग की मौन स्वीकृति से लंबे समय से बेखौफ होकर अवैध आहते का कारोबार संचालित हो रहा है । जिसकी वजह से देर रात तक कॉलोनी वासियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ता है । पाथाखेड़ा के शास्त्री नगर वासियों के माध्यम से कई बार आवेदन देकर अवैध शराब व आहते को बंद कराने की मांग की जा चुकी है वहीं सारनी के नगरपालिका पहुंच मार्ग पर संचालित होने वाले शराब की दुकान और आहते को लेकर भी धरना प्रदर्शन किया जा चुका है लेकिन व्यवस्थाओं में किसी भी तरह का सुधार नहीं हो पाया एक बार फिर क्षेत्र के सामाजिक संगठन एकजुट होकर अवैध तरीके से संचालित होने वाले आहाते के खिलाफ लामबंद होने की तैयारी में जुट गए है।

नियम विरुद्ध बेची जा रही शराब

संपूर्ण प्रदेश में जहां जहां पर शराब की दुकानें संचालित हो रही है उन शराब की दुकानों पर शराब का मूल्य निर्धारित रहता है लेकिन नगर पालिका क्षेत्र के अंतर्गत आने वाले सारनी,पाथाखेड़ा,शोभापुर और बगडोना में जो भी शराब की दुकानें है। उन शराब की दुकानों पर शराब के मूल्य का बोर्ड नहीं लगाया गया है शराब के ठेकेदार के माध्यम से शराब बेची जा रही है जिसकी वजह से सरा प्रेमियों को खासी परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। बताया जाता है कि रात 10 बजे तक शराब की दुकान खोलने की अनुमति है लेकिन सारनी में रात 2 बजे तक शराब की दुकानों संचालित हो रही है रात 12 बजे के बाद शराब के मूल्य ठेकेदार के माध्यम से बढ़ा दिया जाता है सूत्रों की माने तो जो बियर 150रुपये की है वह 170 और 200 रुपये में बेची जाती है जिसको लेकर भी सरा प्रेमियों में शराब ठेकेदारों के प्रति खासा आक्रोश देखा जा सकता है ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!