कम्प्यूटर में नामान्तरण दर्ज ना होने से हड़पी जा रही मंदिर की जमीन फरियाद लेकर जनसुनवाई में पहुंचे पनवारी गांव के लोग

Share Scn News India

रिपोर्ट- प्रद्युम्न फौजदार,छतरपुर
बड़ामलहरा /कम्प्यूटर में नामांतरण फीड न होने से मंदिर की जमीन को दबंगों द्वारा हड़पा जा रहा है इस आशय का आवेदन पनवारी गांव के ग्रामीणों ने जनसुनवाई एसडीएम राजीव समाधिया को सौंपा है बीआरजीएफ भवन में आयोजित साप्ताहिक जनसुनवाई में पनवारी गांव के लोगों ने अधिवक्ता भरत उपाध्याय एवं देवशंकर लोधी के साथ पहुंचकर एसडीएम राजीव समाधिया को दिये आवेदन में अपनी फरियाद सुनाई कि कम्प्यूटर में नामान्तरण फीड ना होने के कारण मंदिर की जमीन को दबंगों द्वारा हड़पा जा रहा है जिस पर एसडीएम ने तत्काल कम्प्यूटर में नामान्तरण फीड करने का पटवारी को निर्देशित किया।ग्रामीणों ने बताया कि पनवारी गांव में स्थित श्री राम जानकी मंदिर के लिए गांव के लोगों ने खसरा क्रमांक 434/2,435/2 की जमीन मुलू तनय अड़कू लोधी से रजिस्टर्ड विक्रय पत्र के जरिये दिनांक 31/05/11 को खरीदी थी जिसका नामान्तरण भी हो चुका था किन्तु कम्प्यूटर में नामान्तरण फीड ना होने की दशा में मूलू लोधी ने उस पर न सिर्फ बैंक से कर्ज ले लिया बल्कि इस बर्ष की फसल भी काट ली उक्त शिकायत पर एसडीएम राजीव ने मौके पर ही पटवारी को निर्देशित किया कि कम्प्यूटर में उक्त नामान्तरण इन्द्राज करवाया जाये।
जनसुनवाई में कुल 30 आवेदन पंजीबद्व किऐ गये जिसमें राजस्व से संबंधित 12 जिसमें भूमि का सीमाकंन आदि से संबधित थे जनपद पंचायत से संबधित 4 जिसमें सामाजिक सुरक्षा पेंशन के साथ ही विकलांग पेंशन से संबधित रहे जबकि नगर पंचायत के 06 आवेदन महिला बाल विकास का एक एवं ग्राम पंचायतों से संबंधित 7 आवेदन शामिल है जिसमें कुछ प्रकरणों का मौके पर ही निराकरण किया गया जबकि कुछ प्रकरणों के निराकरण के लिए समय सीमा निश्चित की गई । जनसुनवाई में एसडीएम के अलावा तहसीलदार के.के.गुप्ता,घुवारा तहसीलदार त्रिलोक सिंह पूसाम,सीईओ जनपद पंचायत अजय सिंह सीएमओ नगर पंचायत प्रदीप रिछारिया,महिला बाल विकास आधिकारी डा.एकता गुप्ता,एसडीओ लोक स्वास्थ्य यांत्रीकीय विभाग जेपी प्रभाकर,जीपी प्रजापति,बीआरसीसी हरिप्रसाद,आर.आई हनुमान सिंह,सावन्त सिंह, पटवारी एंव अन्य विभागों के अधिकारी कर्मचारी मौजूद रहे ।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!