कचरे के ढेर में मिली नवजात

Share Scn News India

विकास सेन पन्ना

सरकार के मुखिया शिवराज सिंह चौहान के राज में आज भी बेटियों को अभिशाॅप माना जाता है, ऐसा ही मामला ग्राम कृष्णगढ में मिला जहां पर एक नवजात बच्ची कचरे के ढेर में पडी मिली। सुबह लगभग 10 बजे गावं वालो ने जब कचरे के ढेर से रोने की आवाज सुनी तो लोग वहां पहुॅचे जब जाकर देखा तो ग्राम कृष्णगढ के लोगो का दिल पसीज गया और उन्होने 108 वाहन एवं डायल 100 को फोन किया। इन सब दोनो वाहन को देर से आता देख लोगो ने स्वयं अपने निजी वाहन से उस दुधमुही बच्ची को आनन-फानन में पवई स्वास्थ्य केन्द्र लाये जहां पर बच्ची का प्राथमिक उपचार किया जा रहा है। बीएमओ ने बताया कि यह बच्ची लगभग साढे आठ माह की है, जिसका प्राथमिक उपचार किया गया है, जो अब पूरी तरह से स्वस्थ्य है, इसे जिला चिकित्सालय पन्ना भेजा जायेगा। अब सवाल उठता है कि म0प्र0 सरकार भले ही लाख दावे कर बेटियो के लिये अनेक योजनाये लागू करने की बात करे किन्तु आज भी जमीनी हकीकत में बेटियो को दहेज एवं सुरक्षा की दृष्टि से अभिशाॅप ही माना जाता है, इस तरह ग्राम कृष्णगढ में ममता को शर्मसार कर देने वाली घटना या तो किसी ने अपना कुकर्म छुपाने के लिये बच्ची को मरने के लिये कचरे के ढेर मे फेका है या फिर किसी माता पिता ने दहेज के अभिशाॅप के कारण यह जांच का विषय है, पवई पुलिस ने मामला दर्जकर इसे जांच में लिया है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!