scn news india

मध्य प्रदेश का यूनिक और इनोवेटिव डिजिटल मीडिया

Bhopal

पावर जनरेटिंग कंपनी की ताप विद्युत उत्पादन इकाइयों द्वारा ऐतिहासिक 28627 मिलियन विद्युत उत्पादन, ऊर्जा मंत्री श्री तोमर ने दी बधाई

Scn News India

sarni 2

ब्यूरो रिपोर्ट 

मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के ताप विद्युत गृहों द्वारा वित्तीय वर्ष 2023-24 में अब तक का सर्वाधिक 28627 मिलियन यूनिट विद्युत उत्पादन कर नया रिकार्ड बनाया गया है। यह पावर जनरेटिंग कंपनी के इतिहास का सर्वाधिक ताप विद्युत उत्पादन है। ताप विद्युत गृहों द्वारा विभिन्न मापदंडों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया गया। ताप विद्युत गृहों का इस दौरान प्लांट लोड फेक्टर (पीएलएफ) 60.3 प्रतिशत रहा, जो वर्ष 2019-20 के पश्चात् सर्वाधिक है। ताप विद्युत गृहों का 7.12 फीसदी ऑक्जलरी कंजम्पशन, अब तक का सबसे कम वार्षिक कंजम्पशन रहा। ताप विद्युत गृहों की कुल विशिष्ट तेल खपत 0.60 मिलीलीटर प्रति यूनिट रही, जो पावर जनरेटिंग कंपनी की अब तक की सबसे कम वार्षिक विशिष्ट तेल खपत है। वित्तीय वर्ष के दौरान कंपनी की थर्मल पावर यूनिट्स का हीट रेट 2415 किलो कैलोरी प्रति इकाई रहा, जो अब तक का न्यूनतम है। वित्तीय वर्ष 23-24 के दौरान 13 थर्मल इकाइयों ने लगातार 100 दिनों एवं अधिक सतत् व निर्बाध विद्युत उत्पादन किया, जिनमें से दो इकाइयों ने 200 दिनों से अधिक समय तक विद्युत उत्पादन किया।

ऊर्जा मंत्री श्री प्रद्युम्न सिंह तोमर, अपर मुख्य सचिव ऊर्जा श्री मनु श्रीवास्तव एवं मध्यप्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के प्रबंध संचालक श्री मनजीत सिंह ने ताप विद्युत गृहों के अभियंताओं और कार्मिकों को इन स्वर्णिम उपलब्धियों पर हर्ष व्यक्त करते हुए बधाई दी है।

अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई की यूनिट नंबर पांच का बेहतरीन प्रदर्शन

अमरकंटक ताप विद्युत गृह चचाई (एटीपीएस) की 210 मेगावाट क्षमता की यूनिट नंबर 5 का उत्पादन 1804 मिलियन यूनिट और पीएलएफ 97.8 प्रतिशत रहा। यह यूनिट 9 सितंबर 2009 को कमीशन हुई थी और कमीशनिंग के पश्चात् यूनिट का यह सर्वाधिक विद्युत उत्पादन और पीएलएफ है। इस यूनिट का प्लांट अवेलेबिलिटी फेक्टर 99.4 फीसदी तथा विशिष्ट तेल खपत 0.10 मिली लीटर प्रति यूनिट रही। यह भी कमीशनिंग के बाद न्यूनतम है। इसी प्रकार इस यूनिट का हीट रेट 2333 किलो कैलोरी प्रति किलोवाट घंटा रहा। यूनिट नंबर पांच 27 अगस्त 2023 से सतत् एवं निर्बाध विद्युत उत्पादन कर रही है। यानी कि 293 दिन (14 जून 2024 तक) जो कमीशनिंग के बाद से अब तक की सबसे लंबी अवधि है।

सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी द्वारा उत्पादन के साथ निर्बाध उत्पादन

सतपुड़ा ताप विद्युत गृह सारनी (एसटीपीएस) के विद्युत गृह चार का हीट रेट 2349 किलो कैलोरी प्रति यूनिट रहा। यह इस यूनिट की कमीशनिंग के बाद से अब तक का सबसे कम हीट रेट है। एसटीपीएस की यूनिट नंबर 10 का उत्पादन 2054 मिलियन यूनिट एवं पीएलएफ 93.6 फीसदी रहा, जो इसकी कमीशनिंग तारीख से अब तक का सबसे अधिक उत्पादन है। इस यूनिट का हीट रेट 2356 किलो कैलोरी प्रति इकाई रहा, जो कमीशनिंग के बाद से अब तक की सबसे कम है। यह यूनिट 15 अक्टूबर 2022 से 16 अगस्त 2023 तक 305 दिनों तक लगातार संचालित हुई, जो अब तक की सबसे लंबी अवधि है। एसटीपीएस की यूनिट नंबर ग्यारह 15 अक्टूबर 2022 से 8 जून 2023 तक 236 दिनों तक लगातार संचालित रही, जो कमीशनिंग होने के बाद से अब तक की सबसे लंबी अवधि है।

ताप विद्युत उत्पादन का आधार स्तम्भ श्री सिंगाजी ताप विद्युत परियोजना

श्री सिंगाजी ताप विद्युत परियोजना दोंगलिया (एसएसटीपीएस) कॉम्पलेक्स का कुल विद्युत उत्पादन 14930 मिलियन यूनिट रहा, जो कि इसकी कमीशनिंग के पश्चात् अब तक का सर्वाधिक विद्युत उत्पादन है। एसएसटीपीएस की यूनिट नंबर 3 का उत्पादन 4568 मिलियन यूनिट एवं पीएलएफ 78.8 फीसदी रहा, जो यूनिट की कमीशनिंग के बाद अब तक का सर्वाधिक उत्पादन तथा पीएलएफ है। इस यूनिट का ऑक्जलरी कंजम्पशन 5.38 प्रतिशत रहा। यह अब तक की सबसे कम खपत है। एसएसटीपीएस की यूनिट नंबर चार 18 अक्टूर 2022 से 8 अप्रैल 2023 तक 172 दिनों तक लगातार संचालित हुई, जो कमीशनिंग के बाद से अब तक की सबसे लंबी अवधि है।