scn news india

मध्य प्रदेश का इनोवेटिव डिजिटल मीडिया

Betulscn news india

युवती की आत्महत्या के मामले में नया खुलासा

Scn News India

mona

विशाल भौरासे की रिपोर्ट

  • आत्महत्या के मामले में नया खुलासा
  • युवती के परिजनों ने प्रेमी सहित उसके परिजनों पर लगाया आरोप
  • एसपी को आवेदन सौंपकर सुसाइड नोट के आधार पर जांच की मांग की

बैतूल। विगत 9 मार्च को चंद्रशेखर वार्ड में किराए के मकान में रह रही एक युवती का संदिग्ध अवस्था में शव मिला था। युवती की जहरीला पदार्थ खाने से मौत हो गई थी। इस मामले में गुरुवार 14 मार्च को युवती के परिजनों ने एसपी को आवेदन सौंपकर घटनास्थल पर मिले सुसाइड नोट के आधार पर निष्पक्ष जांच कर कार्रवाई करने की मांग की है।

थाना साईखेड़ा निवासी आवेदक रविन्द्र खंडारे पिता फत्तू खंडारे ने एसपी को सौंपे आवेदन में आरोप लगाया कि अनावेदकगण अविनय पिता दिनेश खंडारे, सुधा पति दिनेश खंडारे निवासी-रामनगर, राहुल तायवाडे निवासी आमला, विजय डोंगरे निवासी आठनेर की प्रताड़ना से मोना खंडारे ने आत्महत्या जैसा कदम उठाया। परिजनों का आरोप है कि पुलिस द्वारा मृतिका की घटना स्थल से सोसाईट नोट जब्त करने के बावजूद आज तक अनावेदकगणों के विरूद्ध कोई उचित कार्यवाही नही की गई।

आवेदक रविन्द्र खंडारे ने बताया मोना खंडारे चन्द्रशेखर वार्ड में किराए के मकान में रहकर प्राइवेट जॉब करती थी। 9 मार्च को पुलिस ने फोन पर बताया कि चन्द्रशेखर वार्ड में रह रही तुम्हारी बहन मोना ने जहरीला पदार्थ पीकर आत्म हत्या कर ली। रिश्तेदार घटना स्थल पर पहुंचे तो देखा मोना खंडारे मृत अवस्था में पड़ी थी। पुलिस द्वारा तलाशी लेने पर मृतिका के बिस्तर पर तकिया के नीचे से मोना की राईटिंग में एक चिट्टी को पुलिस द्वारा बरामद किया गया है। पुलिस द्वारा बरामद चिट्टी में मोना खंडारे ने स्पष्ट लिखा है कि मेरी मौत का जिम्मेदार अविनय, राहुल, सुधा, तथा आठनेर वाला मौसा विजय डोंगरे है। आवेदक रविन्द्र खंडारे ने बताया उनकी बहन का अविनय खंडारे के साथ प्रेम संबंध था। अविनय एवं उसकी मां सुधा, राहुल तथा विजय डोंगरे का आना जाना मोना के घर था। अविनय खंडारे ने उनकी बहन से शादी का वादा किया था। उसकी मां सुधा, राहुल और विजय उनकी बहन को मानसिक प्रताड़ित कर रहे थे। पुलिस को जानकारी देने के बावजूद भी पुलिस द्वारा अनावेदकगणों के विरूद्ध कोई कार्यवाही नहीं की जा रही है। मृतका के परिजनों ने एसपी को आवेदन सौंपकर अनावेदकगणों के विरूद्ध कठोर दंडात्मक कार्यवाही करने की मांग की।