scn news india

मध्य प्रदेश का यूनिक और इनोवेटिव डिजिटल मीडिया

Betul

कीमती दरवाजे और खिड़कियों के चोरी मामले में एफआईआर दर्ज – एक गिरफ्तार

Scn News India

mithna

ब्यूरो रिपोर्ट 

सारणी थाना क्षेत्र अंतर्गत मध्य प्रदेश पावर जनरेटिंग कंपनी के सुने खाली पड़े आवासों से लगातार चोरी हो रहे कीमती दरवाजे और खिड़कियों के चोरी होने की वारदातों की एमपी पीजीसीएल  के अधिकारियों की शिकायत के बाद थाना सारणी पुलिस द्वारा एक आरोपी को गिरफ्तार कर दरवाजे जप्त किये है।

बता दे की यह वही कारवाही है जिसमे एमपी पीजीसीएल और पुलिस ने संयुक्त रूप से लगभग 16 दिन पूर्व सारणी से लगे ग्राम मोर डोंगरी, बाकुड , विक्रमपुर आदि से मुनादी कर घरो में लगे एमपी पीजीसीएल की सम्पति सरेंडर करने की अपील लगाई थी। अन्यथा पकड़े जाने पर एफआईआर किये जाने की चेतावनी दी थी।

जिसका असर ये हुआ की खुद ही लोगो ने लगभग 17 दरवाजे एमपी पीजीसीएल सुरक्षा विभाग के अधिकारी को सुपुर्द किये थे। मामले में फरार आरोपित की पुलिस द्वारा सरगर्मी से तलाश की जा रही थी।  थाना सारणी पुलिस द्वारा मामले के आरोपी को गिरफ्तार कर न्यायालय में पेश किया गया है। 

सारणी थाना क्षेत्र अन्तर्गत एम पी पी जी सी एल सारणी के सिविल विभाग के कार्यपालन अभियंता श्री राजेंद्र कुमार सोनी ने बताया कि एम पी पी जी सी एल के आवासीय परिसर मठारदेव कॉलोनी के खाली आवासों के दरवाजा चोरी होने संबंधी रिपोर्ट दिनांक 11/05/24 को दर्ज कराई थी, और कुछ लोगों पर दरवाजा चोरी करने की शंका जाहिर की थी !

पुलिस द्वारा उक्त प्रकरण में लगातार विवेचना करते हुए दिनांक 28/05/24 को मिथुन पवार उर्फ मिथना पिता रमेश पवार निवासी ईश्वर नगर वार्ड क्रमांक 1 पाटाखेड़ा सारणी को हिरासत में लेकर पूछताछ किया जिसने खुद के द्वारा एम पी पी जी सी एल सारणी के सूने मकानों से 15 दरवाजे चोरी करना बताया।

पुलिस ने बताया कि आरोपी मिथुन उर्फ मिथना थाना सारणी का निगरानी बदमाश है. जिसके विरुद्ध थाना सारणी में मारपीट, जान से खत्म करने की धमकी, छेड़छाड़,चोरी, आगजनी,अवैध हथियार रखना, सट्टा पट्टी काटना, अवैध शराब बेचना से संबंधित विभिन्न धाराओं में लगभग 15 अपराध पंजीबद्ध है। जिसका जिला दंडाधिकारी बैतूल के समक्ष जिला बदर प्रकरण भी प्रस्तुत किया गया है।

जिसकी निशादेही पर एम पी पी जी सी एल सारणी के मकानों से चोरी किए गए 15 दरवाजे जप्त किए और आरोपी मिथुन पवार को गिरफ्तार कर जिला न्यायालय बैतूल पेश किया गया। उक्त कार्यवाही में प्रधान आरक्षक श्रीराम उईके,आरक्षक जितेंद्र जाट आरक्षक जितेंद्र मौरे , आरक्षक अनुराग इरपाचे एवम आरक्षक चालक नितिन यादव की सराहनीय भूमिका रही।