scn news india

मध्य प्रदेश का यूनिक और इनोवेटिव डिजिटल मीडिया

scn news india

विदिशा के फोरेस्ट एसडीओ विजय सिंह मौर्य के खिलाफ भारतीय न्याय साहित्य के तहत सारनी थाने में पहला अपराध दर्ज

Scn News India

bekund

ब्यूरो रिपोर्ट 

  • विदिशा के फोरेस्ट एसडीओ विजय सिंह मौर्य के खिलाफ भारतीय न्याय साहित्य के तहत सारनी थाने में पहला अपराध दर्ज
  • एक जुलाई की रात्रि में बैकुंठ धाम आश्रम में मचाया गया था उत्पात 

सारनी। ग्राम पंचायत सलैया के बैकुंठ धाम आश्रम में एक जुलाई की रात को विदिशा के फोरेस्ट एसडीओ विजय सिंह मौर्य के माध्यम से पहुंचकर आश्रम के बैनर पोस्टर फढ़ने के अलावा मूर्तियों को नुकसान पहुंचाने का प्रयास किया गया था जिसकी शिकायत दो जुलाई को सारनी थाने में आश्रम के संस्थापक सीताराम दादा जी के माध्यम से दर्ज कराई गई जिसके तहत सारनी पुलिस ने मंगलवार को भारतीय न्याय साहित्य 2023 के तहत 296,332(c),324(2) के तहत अपराध दर्ज करने का कार्य किया है। बताया जाता है कि एक जुलाई की रात को रात 8 और 9 के बीच में विदिशा में फोरेस्ट एसडीओ विजय सिंह मौर्य के माध्यम से बैकुंठ धाम आश्रम में पहुंचकर जमकर उत्पाद मचाने का कार्य किया गया था। बैकुंठ धाम आश्रम के संस्थापक सीताराम दादाजी, महंत सगीतदास सहित शिष्यों के साथ जमकर गाली गलौज करने के अलावा बैनर पोस्टर फाड़कर सौफा और कुर्सी को नुकसान पहुंचाया गया इसके अलावा श्री राम दरबार और हनुमान जी की प्रतिमा को भी नुकसान पहुंचाने का प्रयत्न किया गया था। लेकिन उन्हें सफलता नहीं मिली अखबार में समाचार प्रकाशित होने के बाद एवं पुलिस अधीक्षक बैतूल, एसडीओपी सारनी को शिकायत करने के बाद सारनी पुलिस ने इस मामले को गंभीरता से लेते हुए भारतीय न्याय साहित्य 2023 के अंतर्गत यह पहला अपराध दर्ज किया है। हालांकि इस मामले में विदिशा में पदस्थ फोरेस्ट एसडीओ विजय सिंह मौर्य की गिरफ्तारी अभी नहीं हो पाई है घटना के बाद से आरोपी के द्वारा शहर छोड़ कर दूसरे स्थान पर होना बताया जा रहा है।

इनका कहना है

पारिवारिक माहौल खराब होने की वजह से एवं मानसिक स्थिति ठीक ना होने के कारण विदिशा में पदस्थ फॉरेस्ट एसडीओ विजय सिंह मौर्य के माध्यम से इस तरह की हरकत की गई है बैकुंठ धाम आश्रम के संस्थापक सीताराम दादा जी की शिकायत पर एसडीओ के खिलाफ विभिन्न धारा के तहत अपराध पंजीवित करने का कार्य किया गया है।

रोशन कुमार जैन एसडीओपी सारनी