scn news india

मध्य प्रदेश का इनोवेटिव डिजिटल मीडिया

scn news india

अलर्ट- गिरेंगे ओले, चलेगी तेज हवा

Scn News India

mousam

ब्यूरो रिपोर्ट

  • बदले मौसम के मिजाज,
  • आज भी एक दर्जन से ज्यादा जिलों में बारिश-बिजली का अलर्ट,
  • गिरेंगे ओले, चलेगी तेज हवा
एमपी मौसम विभाग ने आज मंगलवार को जबलपुर-नरसिंहपुर समेत प्रदेश के 13 जिलों में ओले-बारिश का अलर्ट जारी किया है। वहीं डिंडोरी-अनूपपुर में 30 से 60Km प्रति घंटे की स्पीड से आंधी चलने के साथ बारिश ओले को लेकर रेड अलर्ट जारी किया गया है। अगले 2-3 दिन ऐसा ही मौसम रहेगा।
MP Weather Alert Today: पश्चिमी विभोक्ष, चक्रवात और बंगाल की खाड़ी से आ रही नमी के चलते मध्य प्रदेश के मौसम का मिजाज बदला हुआ नजर आ रहा है। पिछले 24 घंटों में कई जिलों में तेज बारिश के साथ ओले गिरे।फिलहाल 22 मार्च तक मौसम के यूही बने रहने की उम्मीद है। आज मंगलावर को एक दर्जन से ज्यादा जिलों में बारिश और ओले गिरने की चेतावनी जारी की गई है। यहां 50 से 60Km प्रतिघंटे तक की रफ्तार से आंधी चल सकती है। इस बेमौसम बारिश से गेहूं, सरसों, चना जैसी फसलों को नुकसान हो सकता है।
आज इन जिलों में बारिश के साथ गिरेंगे ओले
एमपी मौसम विभाग के मुताबिक, आज मंगलवार को डिंडोरी, सिवनी और मंडला जिलों में ओलावृष्टि, वज्रपात के साथ 50 से 60 किलोमीटर प्रति घंटा की रफ्तार से हवाएं चल सकती हैं। साथ ही बैतूल, अनूपपुर, शहडोल, जबलपुर, छिंदवाड़ा, पांढुर्णा और बालाघाट जिलों में हल्की से लेकर मध्यम बारिश , तेज हवा और ओलावृष्टि की चेतावनी जारी की गई है। वही रीवा संभाग,उमरिया, कटनी, नरसिंहपुर, दमोह, पन्ना, सागर और छतरपुर जिलों में कहीं-कहीं बारिश, वज्रपात और तेज हवा चल सकती है।
बुधवार-गुरूवार को भी MP के इन जिलों में वर्षा
20 मार्च को अनूपपुर शहडोल ,उमरिया, डिंडोरी, कटनी, जबलपुर, नरसिंहपुर, सिवनी, पांढुर्ना, मंडला, बालाघाट, दमोह, सिंगरौली, रीवा, सीधी, मऊगंज, सतना, मैहर, पन्ना, सागर, छतरपुर जिलों में बारिश-ओलावृष्टि ।वही 21 मार्च को सीधी, रीवा, मऊगंज, सतना, मैहर, शहडोल, उमरिया, डिंडोरी, कटनी, जबलपुर, पांढुर्णा, सिवनी, मंडला, बालाघाट, सिंगरौली में ओलावृष्टि और बारिश होने की चेतावनी ।अगले 24 घंटे के दौरान तापमान में कोई विशेष परिवर्तन नहीं होगा, लेकिन उसके बाद अधिकतम तापमान में वृद्धि दर्ज हो सकती है।
क्या कहता है मध्य प्रदेश का मौसम विभाग
वर्तमान में बंगाल की खाड़ी में निम्न दबाव का क्षेत्र बना हुआ है जो पूर्वी मध्य प्रदेश में वर्षा का कारण बन रहा है । पश्चिमी विदर्भ से लेकर दक्षिण तमिलनाडु तक और झारखंड से लेकर आंध्रप्रदेश तक एक एक ट्रफ लाइन बनी है जिसके कारण मध्य प्रदेश में बारिश और ओलेवृष्टि हो रही है। 20 मार्च को एक पश्चिमी विक्षोभ के आने के आसार हैंं, लेकिन इसका असर 23 और 24 मार्च को ही देखने को मिलेगा। इस दौरान पूवीं मध्य प्रदेश में अधिकतम तापमान में काफी गिरावट होगी, जबकि रात के तापमान में बढ़ोतरी होगी।